एटा के फर्जी मुठभेड़ के मामले में दोषी पुलिस कर्मियों पर निलंबन के बाद एफआईआर के दिए आदेश

एटा के फर्जी मुठभेड़ के मामले में दोषी पुलिस कर्मियों पर निलंबन के बाद एफआईआर के दिए आदेश

एटा में फर्जी मुठभेड़ मामले में ADG जोन आगरा राजीव कृष्ण द्वारा दी गई बाइट

मामले की जाँच अब एटा पुलिस से हटा कर अलीगढ पुलिस को सौंपी गई है।

सम्बंधित पुलिस कर्मियों के खिलाफ तत्काल प्रभाव से कार्यवाही के आदेश,

ADG ने एसएसपी एटा को भी दिए दिशा निर्देश

फर्जी मुठभेड़ मामले में एडीजी राजीव कृष्णा ने लिया संज्ञान,दोषी पुलिस कर्मियों पर निलंबन के बाद एफआईआर के आदेश। मामले में तत्कालीन थानाध्यक्ष इंद्रेश पाल सिंह सहित अन्य पुलिसकर्मियों के खिलाफ हुई है जांच, थाने से लाखों रुपये की शराब गायब करने के मामले में पहले ही निलंबित चल रहे है इंद्रेश पाल सिंह

क्या था मामला- पूरा मामला कोतवाली देहात थाना क्षेत्र का है प्रवीण कुमार नाम के एक विकलांग व्यक्ति के द्वारा जिलाधिकारी विवाह चहल को शिकायती प्रार्थना पत्र दिया गया था उसका ढाबा एटा से 5 किलोमीटर दूर आगरा रोड पर खुशाल गढ़ गांव के समीप बना हुआ है जहां पीड़ित अपने भाई और मां के साथ छोटा सा डावा चला कर दो वक्त की रोजी रोटी कमाता था, जंहा रूपये के लेनदेन के पीछे हुआ था पूरा घटनाक्रम

Total Page Visits: 127 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: