राजस्थान के करौली जिले के बूकना गांव में मंदिर के पुजारी बाबूलाल वैष्णव को 9 अक्टूबर शुक्रवार को पेट्रोल छिड़ककर जिंदा जला दिया गया

राजस्थान के करौली जिले के बूकना गांव में मंदिर के पुजारी बाबूलाल वैष्णव को 9 अक्टूबर शुक्रवार को पेट्रोल छिड़ककर जिंदा जला दिया गया तथा अस्पताल में इलाज के दौरान पुजारी की मृत्यु हो गई।

newsacb7
newsacb7

राजस्थान सरकार और पुलिस प्रशासन की ढिलाई के कारण घटना घटित होने के 24 घंटे होने तक भी आरोपी कैलाश मीणा को गिरफ्तार नहीं किया गया था |

जिसके कारण समाज में और अधिक रोष फैलता चला गया। भाजपा नेता गोपाल शर्मा ने कहा राजस्थान सरकार कानून व्यवस्था को बनाने, समाज के लोगों को सुरक्षा देने तथा अपराध को रोकने में पूर्णत विफल है।

newsacb7
newsacb7

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे देना चाहिए तथा साथ ही राहुल गांधी को भी इस्तीफा दे देना चाहिए क्योंकि कांग्रेस व कांग्रेस की राजस्थान सरकार न तो पीड़ित को न्याय दिला पा रहे हैं और ना ही पीड़ित परिवार को उचित आर्थिक मदद दी है।

newsacb7
newsacb7

राजस्थान सरकार ने मृतक पुजारी बाबूलाल वैष्णव के परिवार को ₹10 लाख की आर्थिक मदद व परिवार के एक सदस्य को संविदा नौकरी देने की घोषणा की है जो कि बहुत कम है, मृतक पुजारी बाबूलाल वैष्णव ही परिवार का लालन पालन करने वाला मुख्य व्यक्ति था जो चला गया

newsacb7
newsacb7

अब परिवार का लालन-पालन ठीक प्रकार से हो सके इसके लिए सरकार को मृतक पुजारी बाबूलाल वैष्णव के परिवार को ₹50 लाख की आर्थिक मदद तथा परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी तथा एक मकान बना कर देना चाहिए

तथा पुजारी बाबूलाल वैष्णव की हत्या करने वाले कैलाश मीणा, शंकर, नमो, राम लखन व अन्य जो भी लोग शामिल रहे हो सभी आरोपियों को फांसी की सजा देनी चाहिए ताकि आगे से समाज में इस प्रकार की भयानक घटना को अंजाम न दिया जा सके

और कोई व्यक्ति मंदिर की जमीन पर कब्जा करने का विचार न करें, तब कहीं जाकर मृतक पुजारी बाबूलाल वैष्णव के परिवार को न्याय मिलेगा।

आज भारतीय जनता पार्टी मेरठ महानगर के कार्यकर्ताओं ने भाजपा नेता गोपाल शर्मा के नेतृत्व में मृतक पुजारी बाबूलाल वैष्णव की आत्मा की शांति तथा परिवार को राजस्थान सरकार के द्वारा उचित न्याय व दोषियों को फांसी की सजा जैसा कठोर दंड दिलाने के लिए परतापुर फ्लाई ओवर के पास हाथ में जलते दीपक लेकर पैदल मार्च निकाला तथा मृतक पुजारी बाबूलाल वैष्णव की आत्मा की शांति के लिए 2 मिनट का मौन रखा। दीप जलाने में मुख्य रूप

Leave a Reply

%d bloggers like this: