प्रसिद्ध लेखिका , कवियत्री , शायरा कुसुम शर्मा ‘ का सरहानीय कार्य

ब्यूरो रिपोर्ट :

बहुमुखी प्रतिभा सम्पन्न प्रसिद्ध लेखिका , कवियत्री , शायरा कुसुम शर्मा ‘ अंतरा ‘ ने एक सफल शिक्षक , गृहणी और समाज सेविका होने के साथ – साथ देश – विदेश में अपनी लेखन प्रतिभा फसे नाम कमाया है । वह हिन्दी , डोगरी और उर्दू में गजल , गीत और कविता लिखती हैं । इन दिनों रोज की एक या दो रचनाएं लिखकर सोशल मीडिया में डालती हैं । उनके प्रशंसक उनकी रचनाओं का देश – विदेश में इंतजार करते हैं और उनकी सराहना और उत्साह बढ़ाते रहते हैं । इनका कुछ नया सीखने – करने का सदा प्रयास रहता है । वह हिंदी में पोस्ट ग्रेजुएट हैं , लेकिन गजल लिखने के लिए उन्होंने उर्दूसीखी । डोगरी लिखते – लिखते डोगरे अक्षर ( टाकरी – डोगरी लिपि ) सीखने के साथ ही सीखा भी रही हैं । उन्होंने वीरवार को बताया कि वह इन दिनों डोगरी पाठशाला में इंटरनैशनल डोगरा सोसायटी के माध्यम से हजारों डोगरी | भाषा के प्रेमियों से बड़े सुरु चिपूर्ण तरीके से डोगरी सीखने – सीखाने और डोगरा संस्कृति का प्रचार – प्रसार कर | रही हैं । इसके अलावा दडुग्गर नरेटिव पेज के माध्यम से डोगरी प्रतिभाओं को प्रोत्साहित कर रही हैं । इस सबके लिए उन्होंने परमात्मा , सोशल मीडिया टीम , अपने हजारों चाहने वालों , उत्साह बढ़ाने वाले पाठकों और परिवार को श्रेय दिया और सभी का हृदय से धन्यवाद किया और आभार प्रकट किया ।

Leave a Reply

%d bloggers like this: