श्री राम जन्मभूमि अयोध्या में 5 अगस्त को भूमि पूजन होने वाला है

श्री राम जन्मभूमि अयोध्या में 5 अगस्त को भूमि पूजन होने वाला है। भूमि पूजन को लेकर संपूर्ण देश के अंदर एक खुशी का माहौल दौड़ रहा है।

newsacb7
newsacb7

विश्व हिंदू परिषद के पूर्व विभाग मंत्री गोपाल शर्मा ने बताया कि श्री राम जन्मभूमि अयोध्या में भूमि पूजन को लेकर मेरठ की क्रांति धरा के तीन प्रसिद्ध पवित्र धार्मिक स्थलों की मिट्टी भी अयोध्या भेजी गई है,

newsacb7
newsacb7

जिनमें एक कलश में पवित्र तीर्थ स्थली गगोल की मिट्टी, दूसरे कलश में प्रसिद्ध औघड़नाथ मन्दिर की मिट्टी और तीसरे कलश में प्रसिद्ध बालाजी धाम शनि मंदिर की मिट्टी भेजी गई है । तीनों कलशो की मिट्टी को अयोध्या भिजवा दिया गया है। मेरठ के वासियों में भी 5 अगस्त भूमि पूजन को लेकर बड़ा उत्साह है, अभी से ही गांव और शहर के अंदर लोगों ने अपने घरों की छतों पर भगवा पताकाये लगानी प्रारंभ कर दी हैं, बड़ी संख्या में लोग दीपक की खरीदारी कर रहे हैं, सभी लोग अपने घर व मंदिर की साफ सफाई पर ध्यान दे रहे हैं।

newsacb7
newsacb7

गोपाल शर्मा ने नगर आयुक्त से भी बात की है कि 5 अगस्त को पूरे मेरठ शहर की सड़कें साफ स्वच्छ रहें,सड़कों पर कली चूना डला रहे और कहीं गंदगी न दिखाई दे। गोपाल शर्मा ने बताया कि कार्यकर्ताओं की व्यवस्था बना दी गई है जो मेरठ शहर के सभी प्रमुख चौक की साफ-सफाई, कली चूना, रंगोली बनाना, व भगवा पताकायें लगाने की व्यवस्था को संभालेंगे।

5 अगस्त को औघड़नाथ मंदिर की साज सज्जा देखने योग्य होगी, श्री बालाजी धाम शनि मंदिर में 5 अगस्त को 1008 दीपक जलाए जाएंगे तथा मंदिर व आसपास के क्षेत्र में 500 भगवा पताकायें लगाई जाएंगी, स्वच्छता का पूरा ध्यान रखा जाएगा, इसी प्रकार गगोल तीर्थ स्थली पर 5 अगस्त को 5151 दीपक जलाए जाएंगे, पूरी गगोल तीर्थ स्थली पर भगवा पताकाये लगाकर भगवामय रंग में रंग दिया जाएगा।

अच्छी स्वच्छता के साथ कली चूना डलेगा, सुंदर रंगोलियां बनाई जायेंगी, गगोल तीर्थ पर दीपक से ओम, जय श्री राम, व श्री राम जन्मभूमि अयोध्या भूमि पूजन पर्व इस प्रकार से भी लिखा होगा। गगोल तीर्थ स्थली पर 5 अगस्त को होने वाले भूमि पूजन के उत्साह में आज 2 अगस्त से ही भजन व कीर्तन आरंभ कर दिया गया है जो 5 अगस्त तक चलेगा। 5 अगस्त को सत्संग मंडली के द्वारा भजन कीर्तन किए जाएंगे,

हनुमान चालीसा व सुंदरकांड का पाठ किया जाएगा, तीर्थ स्थली पर आने वाले राम भक्तों को प्रसाद वितरण किया जाएगा तथा शाम 7:00 बजे से दीप प्रज्वलन कार्यक्रम आरंभ होगा।

5 अगस्त को होने वाले भूमि पूजन को लेकर गगोल तीर्थ स्थली की स्वच्छता, सज्जा व व्यवस्थाओं को लेकर गोपाल शर्मा व पवित्र तीर्थ स्थली गगोल के प्रमुख शिवदास जी महाराज ने योजना बनाई तथा तीर्थ स्थली पर व्यवस्थाओं की दृष्टि से निरीक्षण किया। श्री राम जन्मभूमि अयोध्या में होने वाले भूमि पूजन को दीपावली पर्व की तरह बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा। वास्तव में यह राम राज्य की स्थापना होने जा रही है। श्री राम जन्मभूमि पूजन को लेकर भारत ही नहीं अपितु संपूर्ण विश्व के हिंदुओं में खुशी की लहर दौड़ रही है,समस्त संत गण राम राज्य की स्थापना की खुशी मना रहे हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: