योगी आदित्यनाथ के पिता का निधन, उत्तराखंड सीएम ने कहा- उनका चले जाना बेहद दुखद

उत्तर प्रदेश : उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता का आज सुबह दिल्ली एम्स में निधन हो गया। सुबह 10 बजकर 44 मिनट पर उन्होंने आखिरी ली। तबीयत खराब होने पर उन्हें 13 मार्च को दिल्ली स्थित एम्स में भर्ती कराया गया था। उन्हें लिवर और किडनी की समस्या थी।

उच्च शिक्षा राज्य मंत्री धन सिंह रावत के मुताबिक यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद बिष्ट के शव को गांव लाया जा रहा है। उनके पार्थिव शरीर के शाम तक गांव पहुंचने की संभावना जताई जा रही है।

योगी आदित्यनाथ के परिजनों ने बताया है कि स्व. आनंद सिंह बिष्ट की अंतिम इच्छा थी कि वह अपने पैतृक गांव में आखिरी सांस लें। इस वहज से पार्थिव शरीर को गांव लाया जा रहा है। अभी अंतिम संस्कार कहां किया जाएगा, यह स्पष्ट नहीं हो पा रहा है। शाम तक पार्थिव शरीर के पहुंचने की संभावना है। उसके बाद ही इस संबंध में पुष्ट जानकारी मिल पाएगी।

राज्यपाल ने गहरा शोक व्यक्त किया

राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। राज्यपाल ने स्व. बिष्ट की आत्मा की शांति की प्रार्थना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

आनंद सिंह बिष्ट के निधन की खबर सुनकर गहरा दुःख पहुंचा है। उपचार के दौरान जब भी मैं उनसे मिला हमेशा उनके चेहरे की मुस्कान उनके स्वस्थ होने का एहसास दिलाती, लेकिन आज हमारे बीच से उनका यूं चला जाना हम सबके लिए बेहद दुखद है। परमपिता परमेश्वर पुण्यात्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दें व शोकाकुल परिजनों को संबल प्रदान करें
पेट की तकलीफ के चलते भर्ती किया गया था
डॉ. अकरम ने बताया कि आंनद सिंह बिष्ट को मुख्य रूप से पेट की तकलीफ के चलते भर्ती किया गया था। इसके अलावा डिहाइड्रेशन, लो-बीपी और पैरों में गैंगरीन की समस्या थी। अस्पताल में भर्ती करने के बाद उनकी स्वास्थ्य संबंधी जांच कराई गई। रिपोर्ट के आधार उनका उपचार किया जा रहा था।

रविवार देर रात उनकी तबीयत को लेकर सोशल मीडिया पर अफवाह फैलने लगीं, लेकिन एम्स के सूत्रों के मुताबिक बिष्ट की हालत गंभीर बनी हुई थी। योगी आदित्यनाथ के पिता उत्तराखंड में यमकेश्वर के पंचूर गांव में रहते थे। वे फॉरेस्ट रेंजर के पद से 1991 में रिटायर हो गए थे। उसके बाद से वे अपने गांव में रह रहे थे।
योगी आदित्यनाथ बचपन में ही अपना परिवार छोड़कर गोरखपुर महंत अवेद्यनाथ के पास चले आए थे।

निधन पर जताया शोक
योगी आदित्यनाथ के आनंद सिंह बिष्ट के निधन की खबर से बहुत दुखी हूं। ईश्वर इस पुण्यात्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान प्रदान करे और समस्त पारिवारजनों को इस असह्य दुःख सहने की शक्ति प्रदान करे… ओम शान्ति।
– रमेश पोखरियाल निशंक, केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री

स्पीकर ने निधन पर जताया शोक

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट के निधन पर विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने गहरा शोक व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता की हालत गंभीर होने से उन्हें दिल्ली एम्स में भर्ती कराया गया था। अग्रवाल ने ईश्वर से उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की।

अग्रवाल ने शोक संदेश में कहा कि दुखी परिवार एवं क्षेत्रवासियों को ईश्वर इस असीम दुख को सहन करने की शक्ति प्रदान करे।

 

Leave a Reply

%d bloggers like this: