Wednesday, July 15, 2020
अगरतला। त्रिपुरा के गोमती जिले का एक परिवार, जो चेन्‍नई में लॉकडाउन की वजह से फंसा हुआ था, एम्‍बूलेंस में 3213 किलोमीटर का सफर तय कर अपने घर वापस लौट आया है। एक अधिकारी ने बताया कि चंचल मजूमदार अपनी पत्‍नी आशिमा के साथ रविवार शाम यहां पहुंचे और उन्‍हें एक क्वोरंटीन सेंटर में भेज दिया गया है। चंचल अपनी पत्‍नी का ऑपरेशन कराने के लिए चेन्‍नई गए थे।

चंचल ने बताया कि हम चेन्‍नई के अपोलो अस्‍पताल गए थे, जहां मेरी पत्‍नी का एक ऑपरेशन होना था। जिस दिन हमें अस्‍पताल से छुट्टी मिलनी थी उसी दिन लॉकडाउन की घोषणा हो गई और वहां ठहरना हमारे लिए बहुत अधिक महंगा था। इसके अलावा हमारी बेटी की शादी भी आठमई को होनी है इसलिए हमनें एक एम्‍बूलेंस किराये पर की और अपने घर वापस लौट आए।

मजूमदार ने बताया कि अपनी लंबी यात्रा के दौरान उन्‍होंने विभिन्‍न राज्‍यों तमिलनाडू, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, असम, मेघालय और त्रिपुरा की जांच चौकियों पर अस्‍पताल द्वारा प्रदान किए गए दस्‍तावेजों को दिखाया, जिससे उन्‍हें आगे जाने की इजाजत मिली।

मजूमदार ने बताया कि उन्‍होंने अस्‍पताल से ही एम्‍बूलेंस को किराए पर लिया था और इसमें त्रिपुरा का ही एक अन्‍य मरीज भी उनके साथ था। गोमती जिले के जिलाधिकारी तरुण कांती देबनाथ ने कहा कि इन सभी को उदयपुर में एक क्‍वॉरन्‍टीन सेंटर में तत्‍काल भेज दिया गया है। देबनाथ ने कहा कि ये लोग कई राज्‍यों और हाई रिस्‍क जोन को पार कर यहां आए हैं इसलिए हमनें इन्‍हें क्‍वारॅन्‍टीन सेंटर में रखा है। हमनें उन्‍हें उनकी बेटी और अन्‍य रिश्‍तेदारों से भी नहीं मिलने दिया है।

अभी तक त्रिपुरा में कोरोना वायरस संक्रमण के दो मरीज सामने आए हैं, जिसमें से एक इस बीमारी से पूरी तरह ठीक हो चुका है, जबकि दूसरे का अगरतला के एक अस्‍पताल में इलाज चल रहा है।

नोट : ताजातरीन ख़बरों के लिए अभी फॉलो करे newsacb7.com फेसबुक इंस्टाग्राम यूट्यूब और ट्विटर।

Tags: , , , , ,

0 Comments

Leave a Reply

FOLLOW US

INSTAGRAM

YOUTUBE

Advertisement

img advertisement

Archivies

RECENTPOPULAR

Social

%d bloggers like this: