आज श्री राम जन्मभूमि अयोध्या में पूरे हर्षोउल्लास से भूमि पूजन हो गया है।

आज श्री राम जन्मभूमि अयोध्या में पूरे हर्षोउल्लास से भूमि पूजन हो गया है। भूमि पूजन को लेकर संपूर्ण देश के अंदर लोगों में बड़ा ही हर्षोल्लास है।

newsacb7
newsacb7

भूमि पूजन को संपूर्ण देशवासी दीपावली पर्व इस तरह मना रहे हैं। गांव-गांव, गली-गली में सड़कों पर बड़ी संख्या में भगवा पताकाये लहरा रही हैं। घर, मंदिरों व संस्थान में बड़ी संख्या में दीपक जलाए जा रहे हैं।

newsacb7
newsacb7

भाजपा नेता गोपाल शर्मा ने बताया मेरठ की क्रांति धरा से भी तीन प्रसिद्ध धार्मिक पवित्र स्थलों की मिट्टी को अयोध्या भेजा गया था। आज 5 अगस्त को तीनों धार्मिक पवित्र स्थल भव्य तरीके से सजाए गए हैं। तीनो धार्मिक स्थल जिनकी मिट्टी गई है जिनमें औघड़नाथ मंदिर, बालाजी धाम शनि मंदिर व विश्वामित्र तपोभूमि गगोल तीर्थ स्थली हैं। औघड़नाथ मंदिर का दृश्य भी आज देखने लायक है, भव्य तरीके से औघड़नाथ मंदिर सजा हुआ है, इसी प्रकार बालाजी धाम शनि मंदिर भी भव्य तरीके से सजा हुआ है, भगवा पताकाये लहरा रही हैं, 1008 दीपक जलाकर मंदिर की शोभा में चार चांद लगा दिए गए हैं।

newsacb7
newsacb7

मेरठ के प्रसिद्ध 68 तीर्थ स्थलों में एक विश्वामित्र तपोभूमि गगोल तीर्थ भी है, जहां विश्वामित्र जी ने यज्ञ किया था और भगवान श्रीराम व लक्ष्मण जी राक्षसों से सुरक्षा देने के लिए स्वयं वहां उपस्थित रहे थे, ऐसी पवित्र तीर्थ स्थली गगोल को भी आज भगवा पताकाओ से भगवा रंग में रंग दिया गया है, तथा गगोल तीर्थ पर आज 5151 दीपक जलाए गए हैं, दीपक जलाकर दीपक से ओम, स्वास्तिक, जय श्री राम, श्री राम जन्मभूमि अयोध्या में भूमि पूजन के उपलक्ष्य में दीपोत्सव इस प्रकार की आकृतियां बनाई गई है, जिनसे विश्वामित्र तपोभूमि पवित्र तीर्थ स्थल गगोल की शोभा कई गुना बढ़ गई है।

भाजपा नेता गोपाल शर्मा ने बताया की आज दिन भर गगोल तीर्थ स्थल पर भजन, कीर्तन, सत्संग, हनुमान चालीसा व सुंदरकांड का पाठ किया गया। सुबह 6:00 बजे से ही भजन, कीर्तन, सत्संग आरंभ हो गए थे, हवन किया गया, दिनभर हनुमान चालीसा व सुंदरकांड का पाठ किया गया और प्रसाद वितरण किया गया। शाम 7:00 बजे से विश्वामित्र तपोभूमि पवित्र तीर्थ स्थली गगोल पर दीपोत्सव कार्यक्रम किया गया। जैसा कि गोपाल शर्मा ने नगर आयुक्त अरविंद चौरसिया से बात कर यह कहा था कि 5 अगस्त को पूरे मेरठ शहर की सड़कों की साफ-सफाई कर दी जाए तथा शहर के सभी चौराहों पर सुंदर रंगोलियां बनाई जाएं नगर आयुक्त ने मेरठ शहर की सभी सड़कों की साफ-सफाई कराई तथा शहर के प्रमुख चौराहों पर गोपाल शर्मा ने स्वयं घूम कर देखा तो चौराहों पर सुंदर रंगोलियां भी बनी हुई थी। सड़कों व चौराहों पर अपने कार्यकर्ताओं के माध्यम से भगवा पताकाएं हमने बंधवा दी थी।

वास्तव में 5 अगस्त को मेरठ वासियों के अंदर श्री राम जन्मभूमि अयोध्या भूमि पूजन को लेकर बड़ा ही उत्साह दिखाई दिया। मंदिरों, घरों व संस्थानों में लोगों ने हवन, पूजन कराएं। गोपाल शर्मा ने बताया कि हमने मेरठ महानगर के अंदर 108000 दीपक जलवाने, 5100 भगवा पताकाये लगवाने, और 500 स्थानों पर हवन, पूजन, हनुमान चालीसा व सुंदरकांड का पाठ कराने का संकल्प लिया था

लेकिन मेरठ वासियों के अंदर श्री राम जन्मभूमि अयोध्या भूमि पूजन को लेकर इतना उत्साह था कि मेरठ शहर के अंदर कई लाख दीपक जलाए गए, 25,000 से अधिक भगवा पताकाये लगाई गई, हजारों स्थान पर हवन, पूजन,सत्संग, हनुमान चालीसा व सुंदरकांड के पाठ किए गए, पूरा शहर होर्डिंग बैनर से भरा रहा, शोशल मीडिया पर भी लोगो मे बड़ा ही उत्साह रहा। यह सब राम जी की भक्ति का असर था और 492 वर्षों के लंबे संघर्ष के बाद आए खुशी के क्षण का असर था जिसकी लंबे समय से प्रतीक्षा थी जो पूरा मेरठ शहर राममय हो गया और मेरठ के मंदिरों जय श्री राम के उद्घोष से गूंज रहे थे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: