Wednesday, July 15, 2020

मुक्केबाजी में भारत के पहले ओलंपिक पदक विजेता 34 वर्षीय विजेंदर ने कहा,

मुझे मई में मुकाबले में उतरना था, लेकिन वर्तमान स्थिति देखते हुए उसे रद्द कर दिया

गया है।

भारत के पेशेवर मुक्केबाज विजेंदर सिंह (Vijender Singh) को कोविड-19 के कारण अपनी सारी योजनाएं रद्द करनी पड़ीं, लेकिन उन्हें साल के अंतिम छह महीनों में रिंग में उतरने और अपना पेशेवर करियर फिर से शुरू करने की उम्मीद है. विजेंदर अभी सर्किट में अजेय है और उन्होंने अपने सभी 12 मुकाबले जीते हैं. उनका अमेरिका के बाब आरुम के टॉप रैंक प्रमोशन्स के साथ अनुबंध है. अमरीका भी अभी इस घातक महामारी की चपेट में है, जिससे वहां लगभग 10,000 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं।

मुक्केबाजी में भारत के पहले ओलंपिक पदक विजेता 34 वर्षीय विजेंदर ने कहा, ‘‘मुझे मई में मुकाबले में उतरना था, लेकिन वर्तमान स्थिति देखते हुए उसे रद्द कर दिया गया है. मुझे हालांकि उम्मीद हैं कि चीजों में सुधार होगा और साल के आखिर में मुझे मुकाबले में उतरने का मौका मिलेगा. मुझे लगता है कि ऐसा होगा.” उन्होंने कहा, ‘‘निश्चित तौर पर मुझे नुकसान हुआ है, लेकिन कुछ नहीं किया जा सकता है. ऐसे में शांतचित रहने और चीजों के सामान्य होने का इंतजार करना ही उचित है।
विजेंदर ने कहा कि वह सुरक्षित रहकर दिल्ली में अपने आवास पर लगातार अभ्यास कर रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘‘मेरे घर में सब कुछ है और मुझे बाहर जाने की जरूरत नहीं है. मैं खुद ही अभ्यास करता हूं जो कि असामान्य नहीं है क्योंकि मुझे तभी ट्रेनर का साथ तभी मिलता है जब मैं इंग्लैंड में होता हूं. विजेंदर के ट्रेनर मैनचेस्टर के ली बीयर्ड है जिन्हें मुकाबले से कुछ दिन पहले उनसे जुड़ना था।

इस मुक्केबाज ने कहा, ‘‘मुकाबला जब भी शुरू होगा मैं उसके लिये खुद को तैयार रखना चाहता हूं. मैं घर पर तैयारियां कर रहा हूं क्योंकि आप किसी भी तरह से बाहर नहीं निकल सकते हैं।

नोट : ताजातरीन ख़बरों के लिए अभी फॉलो करे , टाइप करे NEWSACB7.COM फसेबूक यूट्यूब इंस्टाग्राम और ट्विटर। 

Tags: ,

0 Comments

Leave a Reply

FOLLOW US

INSTAGRAM

YOUTUBE

Advertisement

img advertisement

Archivies

RECENTPOPULAR

Social

%d bloggers like this: