Thursday, July 2, 2020

रबी विपणन वर्ष 2020-21 की मूल्य समर्थन योजना के तहत मेरठ में गेहूं क्रय दर काफी धीमी है। प्रदेश स्तर पर शुरू किए गए गेहूं क्रय में मेरठ में दूसरे दिन तक केवल 207 कुंतल क्रय हुआ। इसके पीछे अधिकारियों का कहना है कि गेहूं कटाई के लिए मजदूर मिलने में मुश्किल आ रही हैं। साथ ही लॉकडाउन में गेहूं की कटाई पिछले सालों की अपेक्षा काफी देरी से हो रही है।

उधर, इस मामले में किसानों की राय एक दम अलग है। किसानों का कहना है कि लॉकडाउन में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना व टोकन लेना एक बड़ी चुनौती है। इससे मुश्किल काम तहसील स्तर पर एसडीएम से सत्यापन कराना है। इस प्रक्रिया के बिना किसान क्रय केंद्र पर गेहूं नहीं दे सकता है। जिला खाद्य विपणन अधिकारी सतेंद्र कुमार सिंह का कहना है कि रजिस्ट्रेशन में किसानों की संख्या जल्द ही बढ़ेगी। क्रय केंद्र पर किसानों के लिए समुचित व्यवस्था की गई है।

0 Comments

Leave a Reply

FOLLOW US

INSTAGRAM

YOUTUBE

Advertisement

img advertisement

Archivies

RECENTPOPULAR

Social

%d bloggers like this: